Breaking Ticker

​​​​​​​शिक्षक दिवस पर 5 सितम्बर को ‘शिक्षा मड़ई‘ का आयोजन, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल करेंगे आगाज


मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मुख्य आतिथ्य में शिक्षक दिवस के अवसर पर 5 सितम्बर को नवाचारी शिक्षकों के कार्यों पर आधारित प्रदर्शनी ‘शिक्षा मंड़ई‘ का आयोजन किया जाएगा। यह आयोजन दोपहर 01 से 2.30 बजे तक स्वामी आत्मानंद शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम आर.डी. तिवारी स्कूल रायपुर में किया जाएगा। कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल होंगे। कार्यक्रम में राज्य के चुनिंदा नवाचारी शिक्षक भी शामिल होंगे। 

शिक्षा मंड़ई कार्यक्रम में मुख्यमंत्री और अतिथियों द्वारा मोहल्ला कक्षा और लाउडस्पीकर कक्षा, बच्चों द्वारा खेले जा रहे विभिन्न स्थानीय खेल, विज्ञान-रसायन-भौतिक प्रयोगशाला, स्मार्ट क्लास-जुगाड़ स्टूडियो, सहायक सामग्री, आमाराईट एवं पपेट शो, पुस्तकालय का अवलोकन किया जाएगा।

शिक्षा मंड़ई आयोजन का उददेश्य राज्य में कोरोना के दौरान हुए चुनिंदा नवाचारों से अवगत होना और उनका दस्तावेजीकरण करना है। कार्यक्रम में कोरोना संकट के दौरान बच्चों की पढ़ाई जारी रखने, नवाचारी शिक्षण करने वाले चुनिंदा शिक्षकों का सम्मान किया जाएगा। अंग्रेजी माध्यम की शालाओं में शिक्षण-अधिगम में किए गए नवाचार के कार्यों पर आधारित प्रदर्शनी लगायी जाएगी। कार्यक्रम में कोरोना संकट के दौरान किए गए नवाचारी कार्यों पर आधारित काफी-टेबल बुक का विमोचन भी किया जाएगा। मुख्यमंत्री के आगमन के पूर्व प्रातः 10 से 12 बजे तक संविधान और महान विभूतियों पर बच्चों की भाषण प्रतियोगिता होगी। 

शिक्षा मड़ई के मैदान में मोहल्ला कक्षा के अंतर्गत प्रदर्शन की थीम स्थानीय भाषा में शिक्षा के अंतर्गत दादा जोकाल दंतेवाड़ा, लाउडस्पीकर से शिक्षा, अंगना म शिक्षा, स्थानीय खेल का प्रदर्शन किया जाएगा। नवाचारों में मोटर सायकल गुरूजी, सिनेमा वाले बाबू, श्यामपट वाले गुरूजी, मुस्कान पुस्तकालय का प्रदर्शन किया जाएगा। कार्यक्रम में स्मार्ट कक्षा के माध्यम से अध्यापन, जुगाड़ स्टूडियो के माध्यम से वीडियो तैयार करना आदि का प्रदर्शन भी होगा। 

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !