Breaking Ticker

औसत से कम हुई बारिश, सूखे की चपेट में आ सकते हैं छत्तीसगढ़ के ये जिले

रायपुर: छत्तीसगढ़ में यदि इस पखवाड़े पानी नहीं बरसा तो कई जिले सूखे की चपेट में आ सकते हैं. अभी राज्य के 12 जिलों में खास तौर पर सूखे का संकट सबसे ज्यादा गहरा गया है. बालोद में पिछले 12 दिनों से भी ज्यादा हो गए बारिश नहीं हुई. वहां सूखे जैसे ही हालात हो गए हैं. यहां औसत से 36 प्रतिशत कम बारिश हुई है. वहीं कांकेर जिले में 37 प्रतिशत कम बारिश हुई है. हालांकि मौसम विभाग ने अगले तीन दिन दक्षिण छत्तीसगढ़ में अच्छी बारिश की संभावना जताई है.

यह भी पढ़े : दिल्ली से रायपुर लौटे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, ढाई-ढाई साल के मामले में मुख्यमंत्री ने दिया बड़ा बयान

छत्तीसगढ़ के 12 जिले अभी डिफिशिएंट की स्थिति में है. इनमें जशपुर जिले में 29 प्रतिशत कम बारिश हुई है. वहीं सरगुजा में 30 प्रतिशत कम बारिश है. रायगढ़ में 29 प्रतिशत कम, महासमुंद में 26 प्रतिशत,रायपुर में 26 प्रतिशत , गरियाबंद में 21 प्रतिशत,वहीं धमतरी में 23 प्रतिशत कम, राजनांदगांव में 23 प्रतिशत कम, बीजापुर में 22 प्रतिशत वहीं  दंतेवाड़ा में 21 प्रतिशत कम बारिश हुई है.

यह भी पढ़े : Crime News : राजधानी रायपुर में फिर चाकूबाजी, सट्टा और नशे के कारोबार के चलते चाकूबाजी

स्थिति की समीक्षा कर रही है सरकार

राज्य सरकार में मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि सरकार हर स्थिति की समीक्षा कर रही है. हालांकि अभी एक महीने का समय है. यह सही है कि कई जिलों में बारिश को लेकर चिंताजनक स्थिति बनी हुई है. कलेक्टरों को चिट्ठी लिखी गई है. मुख्यमंत्री लगातार स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं. इसके बाद सही निर्णय लिया जाएगा. मौसम वैज्ञानिक एच पी चंद्रा का कहना है कि 12 जिलों में स्थिति काफी चिंताजनक है. बालोद में तो बहुत चिंताजनक है. हालांकि अगले तीन दिनों तक छत्तीसगढ़ के कुछ जिलों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. वहीं दक्षिण बस्तर में कहीं कहीं भारी बारिश की संभावना है.

यह भी पढ़े : Accident News : तेज रफ्तार बस से भिड़ी कार, हादसे में मरवाही विधायक के बेटे सहित 3 की मौत


Katok News पर पढ़े ऑनलाइन HINDI NEWS हम आपको कराते है Latest News से अपडेट

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

buttons=(Accept !) days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !